इस कहानी में, जीव-जन्तुओं का अपने ही महत्व है।

in hive-159906 •  2 months ago 

एक राजा था उन्होंने आज्ञा दी कि संसार में इस बात की खोज की जाए कि कौन से जीव-जंतुओं का उपयोग नहीं है। बहुत खोजबीन करने के बाद उन्हें जानकारी मिली कि संसार में दो जीव जंगली 'मक्खी' और 'मकड़ी' बिल्कुल बेकार हैं। राजा ने सोचा - क्यों न जंगली मक्खियों और मकड़ियों को खत्म कर दिया जाए। इसी बीच राजा पर एक अन्य शक्तिशाली राजा ने आक्रमण कर दिया। युद्ध में राजा की हार हुई और जान बचाने के लिए उन्हें राजपाट छोड़कर जंगल में जाना पड़ा । शत्रु के सैनिक उनका पीछा करने लगे । काफी दौड़ भाग के बाद राजा ने अपनी जान बचाई और थक कर एक पेड़ के नीचे सो गए। तभी एक जंगली मक्खी ने उनकी नाक पर डंक मारा जिससे राजा की नींद खुल गई।

20200731_105531.jpg

गुफा शत्रु में जा छिपे। राजा के गुफा में जाने के बाद मकड़ियों ने गुफा के द्वार पर जाला बुन दिया। से ख्याल आया कि खुले में ऐसे सोना सुरक्षित नहीं है और वे एक के सैनिक उन्हें यहाँ-वहाँ ढूँढ़ते हुए गुफा के नजदीक पहुँचे। द्वार घना जाला देखकर आपस में कहने लगे, “अरे चलो आगे, इस गुफा में राजा आया होता तो द्वार पर बना यह जाला क्या नष्ट न हो जाता । "गुफा में छिपा बैठा राजा ये बातें सुन रहा था। शत्रु के सैनिक आगे निकल गए। उस समय राजा की समझ में यह बात आई कि संसार में कोई भी प्राणी या चीज बेकार नहीं। अगर जंगली मक्खी और मकड़ी न होती तो उसकी जान न बच पाती। हर जीव हमारे लिए महत्वपूर्ण है।

I think you will like this post.
Enjoy your Saturday. A good story makes us learn something new in life. Welcome to this story.
Have a good day.

Thanks for your up-vote, comment and resteemed

Authors get paid when people like you upvote their post.
If you enjoyed what you read here, create your account today and start earning FREE STEEM!